Intezari song lyrics in hindi – Article 15

intezari hai teri lyrics
  • Movie – Article 15
  • Artist – Armaan Malik
  • Song – Intezari

Intezari song lyrics

आ ना आ भी जाना इन्तेज़ारी है तेरी
ले जा जो रिश्तों की रेजदारी है तेरी

आ ना आ भी जाना इन्तेज़ारी है तेरी
ले जा जो रिश्तों की रेजदारी है तेरी
वो जो हम रोये साथ थे
भीगे दिन और रात थे
खारे खारे पानी की कहानी वो लेजा ना

दाँत काटे , संग बाटें
खट्टे मीठे का मज़ा है
जुबां पे अब भी तजा साथियाँ
चाँद देखा था जो हमने चार आंखों से कभी
कैसे देखूँ उसको तन्हा साथियाँ

दाँत काटे , संग बाटें
खट्टे मीठे का मज़ा है
जुबां पे अब भी तजा साथियाँ
चाँद देखा था जो हमने चार आंखों से कभी
कैसे देखूँ उसको तन्हा साथियाँ

हो कभी यूँही तकना तुझे , यूँही देखना
कभी बैठे बैठे यूँही तुझे सोचना
वो पल करार के , वो जो थे लम्हे प्यार के
उन्हें मेरे खुवाबों से ख़यालों से ले जाना

आ ना आ भी जाना इन्तेज़ारी है तेरी
ले जा जो रिश्तों की रेजदारी है तेरी

कभी रूठना वो तेरा, किसी बात पर
कभी हसके ताली देना ,मेरे हाथ पर
थोड़े शिकवे कुछ गीले
वो जो थे अपने सिलसिले
टूटे हुए वादे ,वो इरादे वो ,ले जाना
आ ना आ भी जाना इन्तेज़ारी है तेरी
ले जा जो रिश्तों की रेजदारी है तेरी

दाँत काटे , संग बाटें
खट्टे मीठे का मज़ा है
जुबां पे अब भी तजा साथियाँ
चाँद देखा था जो हमने चार आंखों से कभी
कैसे देखूँ उसको तन्हा साथियाँ

दाँत काटे , संग बाटें
खट्टे मीठे का मज़ा है
जुबां पे अब भी तजा साथियाँ
चाँद देखा था जो हमने चार आंखों से कभी
कैसे देखूँ उसको तन्हा साथियाँ

# https://lyricsfit.com/kathai-kathai-song-lyrics-in-hindi/

#https://www.hinditracks.in/2019/07/hashar-se-pehle-lyrics.html

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*